Friday, 6 December 2013

Thomas Alva Edison - His Lab affection- A inspirational true real life story in Hindi



lab love-affection

Thomas Alva Edison - His Lab affection  

Famous scientist Thomas Alva Edison अपनी धुन के पक्के थे वो जिस कम को भी हाथ में लेते थे उसे पूरा किये बिना साँस नहीं लेते थे । Edison को काम करने का नशा था । वे एक बार अपनी धुन में जब प्रयोगशाला में घुस जाते थे तो प्रोग्शाला से जल्दी बाहर ही नहीं निकलते थे । उनको प्रोग्शाला में रहना इतना पसंद था की जब वो lab में घुस जाते तो वहीँ लैब में ही रम के रह जाते थे ।Edison के इस lab प्रेम से उनकी wife बहुत परेशान रहती थीं । काम के प्रति उनकी धुन से उनकी wife उनसे हमेशा चिढ़ी – चिढ़ी सी रहती थीं ।

एक बार तो Edison ने हद कर दी, वो एक बार वो अपने किसी experiment के लिए Laboratory में घुसे तो काफी दिनों तक बाहर निकले ही नहीं निकले । वे lab में ही पुर्णतः निवास कर रहे थे । फिर आखिरकार काफी दिनों बाद जब वह अपनी  Laboratory से बाहर आये, तो उनकी प्रिय पत्नी ने उनको सलाह दी –“ my dear, आप Night and day काम में लगे रहते हैं । आप थक जाते होंगे, कभी - कभार rest भी कर लिया करें । कभी तो छुट्टी कर लिया करें ।”

इस पर Edison बोले –“ लेकिन में छुट्टी ले कर जाऊं कहाँ ?”

wife बोली-“ my dear, जहाँ तुम्हारा मन चाहे ।“

“Okay! तो फिर मैं वहीँ जाता हूँ ।” यह कह कर Edison फिर से सीधे अपनी Favorite lab में घुस गये ।”    

Friend’s, आप को ये Thomas Alva Edison - His Lab affection motivational story, Hindi में कैसी लगी? क्या ये story सबकी life (personality) में positivity ला सकने में कुछ सहयोगी हो सकेगी, if yes तो please comments के द्वारा जरुर बताये । 

One Request: Did you like this personal development base motivational story in Hindi? If yes, become a fan of this blog...please

अंत में आप सब readers को मेरा धन्यवाद!