Tuesday, 10 September 2013

Google ad-sense approval in hindi



Google ad-sense approval

हम आप सभी लोग अपने blog के लिए goggle ad-sense का approval चाहते हैं । पर जब एक blogger अपने ब्लॉग को goggle ad-sense approval के लिए ad-sense पर apply करता है तो जरूरी नहीं कि उसका ब्लॉग approve हो जाये कई बार तो approve reject भी हो जाता है।

आज मैं आप लोगों के बीच Google ad sense approval प्राप्त करने के लिए किन –किन बातों का ध्यान में रखें, इस पर बात करुँगी और आप के साथ six main point जो ध्यान में रखने हैं ad sense approval के किये, वो बताउंगी, जिससे Google ad sense approval के लिए apply करने से पहले आप अपना ब्लॉग check कर लें कि क्या आप का ब्लॉग Google ad sense approval पाने के लिए तैयार है कि नहीं।

you should check six points before applying Google ad- sense approval:  


you should have some unique and quality post in your blog:- Google ad sense में apply करने से पहले अपने ब्लॉग पर ये देख ले कि आप के ब्लॉग में अच्छी quality के content हो, आप की ब्लॉग post unique हो, किसी और कि copy कि हुई कोई भी post आप के ब्लॉग पर नहीं होनी चाहिए। गर, आप के ब्लॉग पर येसी कोई post हो तो उसे तुरन्त हटा दें वर्ना Google ad sense आप का approval रद कर देगा । Google को कॉपी किये हुए post पसंद नहीं वो इनको illegal मानता है इसलिए इस बात का ध्यान रखें हमेशा अपने ब्लॉग पर original matter लिखें ।

you should have at least 10 plus blog post in your blog:- आप के ब्लॉग में कम से कम 10 post जरूर होनी चाहिए, क्योकि empty ब्लॉग को Google ad sense accept नहीं करता है । Google कि नज़रों में empty ब्लॉग spamming है।

length of your blog post at least 400 words:- Google ad sense approval के लिए आप के ब्लॉग की post की length अच्छी होनी चाहिए। post में कम से कम 300 से 400 word होने ही चाहिए। आप कि post जितनी बड़ी और अच्छी quality कि होगी आप के approval का उतना ही chance बढेगा।

Have a privacy policy: - आप के ब्लॉग पर एक page privacy policy का होना चाहिए जिसमें ब्लॉग कि privacy के सारे नियम दिए हो जिससे आप के ब्लॉग पर जब कोई आये तो उसे पता हो कि आप ने Google ad sense लगाया है और Google आप के user की personal information जैसे की आपकी geographical information, location information, और interest जैसी इनफार्मेशन को collect करता है। आप के ब्लॉग पर सारे नियम साफ़ साफ़ बताये गएँ हो।

Blog Design :- अपने ब्लॉग को design करते समय निम्न बातों का ध्यान जरूर रखे, वर्ना आपके Google ad sense approval का chance कम हो सकता है क्योंकि Google ad sense को अच्छा और साफ़ सुथरा ब्लॉग design पसंद है।

  • Bad navigation
  • clutter of internal links
  • spamming looking blog
  • less contact area
  • no about page
  • no contact page


    ऊपर दिए हुए points का ध्यान रखें। आप के ब्लॉग पर आप की इनफार्मेशन देने वाला “about page” और आप से contact करने के लिए “contact page” जरूर होना चाहिए जिससे लोगों को आप के बारे में जानने और आप से contact करने में problem ना हो। आप के ब्लॉग का navigation सुंदर होना चाहिए।

Age of Blog :- Google ad sense approval के लिए apply करने से पहले ये देख ले कि आप का ब्लॉग six month पुराना हो चका है कि नहीं। Google ये महशूस करता है कि नए ब्लॉग को stale होने में कुछ समय लगता है । और इसके लिए Google 6 –month का समय मानता है। इसलिए 6 month से कम age वाले domain को वो accept नहीं करता है। गर आप के domain को register हुए 6 month नहीं हुए हैं तो आप का ब्लॉग Google ad sense के द्वारा reject कर दिया जायेगा।

India और China के user के लिए Google ने 6 month कि condition spamming रोकने के लिए रखी है। क्योंकि इन देशों से ब्लॉग की history में Google ad Sense के लिए spamming की बहुत ज्यादा शिकायते दर्ज हैं इसलिए spamming रोकने के लिए ये rule बनाया है कि ब्लॉग का कम से कम 6 month old होना जरूरी है ।

now time is applying..
Enjoy! 

दोस्तों, गर आप Google ad-sense approval के लिए apply करने से पहले ऊपर दिए हुए points को ध्यान में रख कर अपने ब्लॉग को submit करते है तो आप के approval के chance 90 % तक बढ़ जाते हैं ।


Friends, if you have any other tips you would like to add this blog post. 

One Request: Did you like this SEO base “Google ad sense approval in Hindi” article in Hindi? If yes, become a fan of this blog and leave a comment..... Please


Recommended Article 


Recommended links